रविवार, 31 जनवरी 2010

अजब-गजब

जरूरी काम!

एक दिन एक अँगरेज राजदूत जर्मनी के महान नेता बिस्मार्क से मिलने आया। दोनों के बीच विभिन्न मुद्दों पर बातचीत होने लगी। इस बातचीत में बहुत समय लग गया। बातचीत और भी लंबी चलती जा रही थी। अचानक बीच में अँगरेज राजदूत ने बिस्मार्क से पूछा कि आपसे रोजाना सैकड़ों लोग मिलने आते हैं। इन मुलाकातों में तो आपका बहुत समय नष्ट हो जाता होगा?

बिस्मार्क ने जवाब दिया- मैंने इसके लिए एक तरीका अपना रखा है। जब भी मुझे लगता है कि कोई मेरा समय फिजूल नष्ट कर रहा है तो मेरा नौकर आकर मुझे कहता है कि मेरी पत्नी मुझे किसी बहुत जरूरी काम से बुला रही है। बिस्मार्क का यह कहना हुआ कि ठीक इसी समय बिस्मार्क का नौकर आया और उसने कहा- सर आपको मैडम किसी बहुत जरूरी काम से बुला रही है।

जैसी करनी वैसी भरनी

दो महिलाएँ आपस में फेसबुक पर मित्र बनीं। दोनों के बीच बातें होने लगी और दोनों एक-दूसरे को शुभकामना भेजने लगी। दोनों महिलाओं ने जब अपनी शादी के फोटो एक-दूसरे को भेजे तो वे यह देखकर चौंक उठीं कि दोनों का पति तो एक ही व्यक्ति है।
दोनों ने आपस में बात की तो पता चला कि यह हमशक्ल वाला मामला नहीं है बल्कि चेंग नाम के व्यक्ति ने इन दोनों महिलाओं से विवाह किया है। बस फिर क्या था दोनों महिलाओं ने चेंग के खिलाफ शिकायत की और चेंग अब मुसीबत में हैं। झूठ थोड़े दिन छुप सकता है ज्यादा दिन नहीं। चेंग को भी यह बात पता चल गई है।

1 टिप्पणी: