शुक्रवार, 17 सितंबर 2010

जब किसी से प्यार होता है

दोस्ती के बीच में आ जाता है प्यार
एक अध्ययन में पाया गया है कि जब आपको किसी से प्यार होता है तो आप अपने कम से कम दो दोस्त खो देते हैं। हम सब यह जानते हैं कि जब किसी से प्यार होता है तो हमारे पास दूसरों के लिए बहुत कम समय बचता है, लेकिन अब इस बात को वैज्ञानिकों ने भी प्रमाणित कर दिया है।
ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने लोगों से उनके क़रीबी दोस्तों और प्यार होने के बाद करीबी दोस्तों की संख्या में आए बदलाव के बारे में सवाल पूछे।
दोस्तों का दायरा : इस दौरान शोधकर्ताओं ने पाया कि प्रेमी या प्रेमिका के आने के बाद पाँच करीबी दोस्तों की संख्या घटकर तीन रह गई।
ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में विकासवादी मानव विज्ञान के प्रोफेसर रॉबिन डुनबर इसका विश्लेषण करते हुए बताते हैं, 'वे लोग जो किसी से प्यार करते हैं, जिनके औसतन पाँच करीबी दोस्त हैं, प्रेम में पड़ने के बाद उनके चार दोस्त ही रह जाते हैं।'
वे कहते हैं, 'आपके जीवन ने जो नया व्यक्ति आया है, आप उसके बारे में ही सोचते रहते हैं, इसका मतलब यह हुआ कि आपने दो लोगों को खो दिया।'
इस अध्ययन को अस्टम में आयोजित ब्रितानी विज्ञान महोत्सव में पेश किया गया। इसे अभी हाल ही में प्रकाशित होने के लिए भी भेजा गया है।
प्रोफेसर डुनबर के समूह ने सामाजिक नेटवर्क का अध्ययन किया और देखा कि कैसे हम उसके आकार और संरचना का प्रबंधन करते हैं।
उन्होंने पहले ही यह बता दिया था कि किसी व्यक्ति के डेढ़ सौ तक दोस्त हो सकते हैं, सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक का उदाहरण देते हुए उन्होंने बताया कि वहाँ हर व्यक्ति के 120-130 दोस्त हैं। दोस्तों की इस संख्या को चार और छह के छोटे-छोटे समूहों में विभाजित किया जा सकता है।
ये ऐसे लोग होते हैं जिन्हें हम हफ्ते में एक बार जरूर देखते हैं और संकट के समय हम इनके पास जाते हैं, इसके अगले घेरे में वे लोग आते हैं जिन्हें हम महीने में एक बार देखते हैं यानी कि 'हमदर्द समूह'।
ये ऐसे लोग हैं जिनकी अगर कल मौत हो जाए तो हमें दुख होगा और परेशान हो जाएँगे। अध्ययन में 18 साल से अधिक उम्र के 540 लोगों से सवाल-जवाब किए गए। उनसे उनके संबंधों पर रोमाटिंक रिश्ता शुरू होने के बाद पड़ने वाले दबाव के बारे में पूछा गया।

1 टिप्पणी: